परिचय

sameer mumbaiसमीर (SAMEER) की स्थापना मुंबई में माइक्रोवेव इंजीनियरिंग एवं इलेक्ट्रोमैग्नेटिक इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में अनुसंधान एवं विकास कार्य को पूरा करने के लिए एक व्यापक अधिदेश के साथ तत्कालीन इलेक्ट्रॉनिकी विभाग, भारत सरकार के अंतर्गत एक स्वायत्त अनुसंधान एवं विकास प्रयोगशाला के रूप में की गई थी। यह 1977 में टाटा मूलभूत अनुसंधान संस्थान (टीआईएफआर), मुंबई में स्थापित विशेष माइक्रोवेव उत्पाद इकाई (एसएमपीयू) की एक शाखा है। समीर (SAMEER) मुंबई की स्थापना 1984 में की गई थी।
 
 मुंबई केंद्र कैंसर थेरेपी, ऑप्टो-इलेक्ट्रॉनिक्स, माइक्रोवेव एवं रेडियो आवृत्ति प्रणाली तथा उप-प्रणाली व घटक के लिए रैखिक त्वरक प्रौद्योगिकी (लीनियर एक्सेलेरेटर टेक्नोलॉजी) के क्षेत्र में विशेषज्ञता प्राप्त है। यह विभिन्न सरकारी एजेंसियों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और उद्योगों के लिए प्रायोजित परियोजनाओं की जिम्मेदारी लेता है और उन्हें कार्यान्वित करता है।

मुंबई के प्रमुख कार्य-क्षेत्र:

  • वायुमंडलीय जांच-पड़ताल के लिए रडार आधारित प्रणालियां
  • रेखीय त्वरक (लाइनक-LINAC)
  • ईएमआई /ईएमसी डिजाइन और माप
  • एकीकृत ऑप्टो-इलेक्ट्रॉनिक्स
  • आरएफ और एमडब्ल्यू के औद्योगिक अनुप्रयोग
  • बेतार संचार
  • उच्च क्षमता के एम्प्लीफायर
  • मौसम विज्ञान सॉफ्टवेयर
  • आरएफ एवं माइक्रोवेव उप-प्रणालियां