एम्एसटी रडार

जांच-पड़ताल -  मध्यमंडल (मेजोस्फेयर),
समतापमंडल (स्ट्रेटोस्फेयर),
क्षोभमण्डल (ट्रोपोस्फेयर - एमएसटी) क्षेत्र।
गडांकी, तिरुपति में संस्थापित।

मुख्य विशेषताएं

  •  3 तत्व यागी
  •  32x32 सरणी
  •  विस्तार 130x130 मीटर
  •  Tx पॉवर 2.5MW (पीक)
  •  बीम चौड़ाई 3 डिग्री
  •  100 किमी की ऊंचाई तक वायुमंडलीय पैरामीटरों के मापन के लिए।
  •  विश्व में अपनी तरह का दूसरा सबसे बड़ा रडार।
  •  तिरुपति के पास गडांकी ग्राम में 1994 से परिचालित।

उपयोगकर्ता

  • इसरो, अंतरिक्ष यान प्रक्षेपण के लिए
  • आईएमडी, मौसम के पूर्वानुमान के लिए
  • शैक्षणिक एवं अनुसंधान प्रयोगशालाओं के वायुमंडलीय वैज्ञानिक

डोपलर सोडार

Radarsमुख्य विशेषताएं

  • वायुमंडलीय सीमा परतों की निगरानी के लिए उपयोगकर्ता ध्वनिक साउंडिंग का उपयोग
  • सटीक विंडप्रोफाइल
  • 1 किमी तक कवरेज
  • पर्यावरणीय निगरानी एप्लिकेशनों के लिए प्रयोग किया जा सकता है।
  • ट्राइ-मोनोस्टेटिक कॉन्फ़िगरेशन
  • आवृत्ति 1.8 किलोहर्ट्ज
  • जांच-क्षमता ऊंचाई 45 मीटर से 1000 मीटर तक

उपयोगकर्ता

  • थर्मल और परमाणु ऊर्जा संयंत्र
  • उच्च जोखिम वाले रासायनिक उद्योग

समीर (SAMEER) ने निम्न स्थानों पर विभिन्न एप्लिकेशनों के लिए डॉप्लर सोडर को विकसित और संस्थापित किया है-

  •  राष्ट्रीय वायुमंडलीय अनुसंधान प्रयोगशाला (एनएआरएल), गडांकी, तिरुपति
  •  एनपीसीआईएल, कैगा, उत्तरी कर्नाटक
  •  एपीएल, वी.एस.एस.सी. त्रिवेंद्रम
  •  आईआईटीएम, पुणे

 

विकसित प्रणालियां

चरणबद्ध सरणी सोडार

Radars चरणबद्ध सरणी सोडार हवा की गति, हवा की दिशा और वायुमंडल, विशेषकर सीमा परत के निचले भाग की हलचल को मापने के लिए जमीन आधारित रिमोट सेंसिंग उपकरण है। समीर (SAMEER) द्वारा विकसित सोडार एकाधिक बीम जनरेट करने के लिए चरणबद्ध सरणी एंटीना का उपयोग करता है। एंटीना में पाइजोएलेक्ट्रिक ट्वीटर्स के कई छोटे-छोटे तत्व शामिल हैं। चरणबद्ध सरणी प्रौद्योगिकी किसी भी दिशा में साउंड बीम के इलेक्ट्रॉनिक रूप से चलने की क्षमता प्रदान करता है और प्रणाली को कॉम्पैक्ट तथा आसानी से तैनात करने योग्य बनाता है। Radars

Radars


RadarsPhased array Mini-SODAR

  • Probing height 15meters to 300 meters
  • Resolution 15m
  • Light weight and transportable
  • Used for site survey for wind energy
  • harnessing and environmental pollution dispersion

Wind Profiler

  • Ground based clear weather doppler radar
  • Frequency UHF band
  • Power 16 KW
  • Beam width of array antenna: 3 degrees
  • Phased array can switch to three beams

Radio Acoustic Sounding System (RASS)

  • Integrated with wind profiler, acoustic remote sensing gives temperature information.
  • Networking of the RASS systems being planned for prediction of climatic and weather parameters for India.